मुनि इंटरनेशनल स्कूल के छात्रों ने बाल दिवस के माध्यम से समझाया पौष्टिक आहार का महत्व

नई दिल्ली (राजेश शर्मा)- मुनि इंटरनेशनल स्कूल के छात्रों ने बाल दिवस के अवसर पर अपनी-अपनी कक्षाओं में विभिन्न प्रकार की स्टॉल लगाई और जमकर मौज-मस्ती की। छात्रों ने अपनी स्टॉलों पर खान-पान के विभिन्न आईटमें रखी, वहीं कुछ छात्रों ने इस दौरान मैजिक गेम व अन्य समान भी बिक्री के लिए रखा कर बाल मेले का शानदार प्रदर्शन किया। इस दौरान छात्रों व अध्यापकों व छात्रों ने अन्य कक्षाओं में लगी स्टॉलस पर जा कर छात्रों से खरीददारी कर उनको को प्रोत्साहित किया।
बाल दिवस मेला इंचार्ज पिंकी सिंह ने बताया कि छात्रों द्वारा 14 नवंबर को बाल दिवस के रूप में मनाया और बाल मेला आयोजित किया। जिसका उदेश्य छात्रों को भारतीय परंपरा में शामिल मेलों की महत्वता के बारे में बताने के साथ-साथ जीवन में पौष्टिक आहार की जानकारी देना था।
क्योंकि जब लोग घर से बाहर घूमने जाते हैं तो पौष्टिक आहार की बजाए जंक फूड या ज्यादा मसालेदार खाना अधिक पसंद करते हैं, जो स्वास्थ्य के लिहाज से सही नहीं रहता। हमारा उद्देश्य खेल-खेल में छात्रों व अध्यापकों तथा अभिभावकों को पौष्टिक आहार के बारे में जागरूक करना है।
बाल मेले के दौरान श्रेष्ठ पौष्टिक आहार स्टॉल लगाने वाले छात्रों को पुरस्कृत भी किया जाता है, ताकि अन्य छात्र उनसे प्रेरणा लें और जीवन में पौष्टिक आहार के महत्व को जानते हुए उसे जीवन में अपनाएं और अन्य लोगों को भी इसके बारे में प्रेरित करें।
छात्रों द्वारा बनाए गए खाद्य आहार व अन्य सामान को उनके सहपाठियों व अध्यापकों ने बड़े ही चाव से खरीदा और उनका लुत्फ उठाया। मेले में हुई बिक्री से छात्र भी काफी खुश नज़र आए क्योंकि उनके द्वारा बनाई गई खाने-पीने की वस्तुओं को खूब सराहा गया था।

 

1 2 3 4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *